अलीगढ़ | डीएम ने गुणवत्ता जाँचने के लिए खुदवाई सड़क

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़। विकास कार्यों में पारदरर्शिता लाने के लिए शनिवार को अलीगढ़ डीएम सेल्वा कुमारी जे. ने अलीगढ़-राया-मुथरा मार्ग के निर्माण की गुणवत्ता की जांच करवाई।

तहसील दिवस से लौटते समय रास्ते में आसना व सिंघारपुर पर अचानक गाड़ी रूकवा दी। डीएम ने सड़क निर्माणदायी संस्था पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को तलब किया।

अधिशासी अभियंता संजीव पुष्कर ने बताया कि अलीगढ़-राया-मथुरा मार्ग की कुल लम्बाई 42.200 किलोमीटर है। मार्ग के प्रारम्भ का 2.8 किलोमीटर का भाग नगर निगम के नियंत्रण में आता है एवं शेष 39.400 किलोमीटर पीडब्ल्यूडी के पास है। उन्होंने बताया कि नवीनीकरण योजना में मार्ग पर कुल 7.355 किलोमीटर लम्बाई में नवीनीकरण कार्य कराया जाना है। स्वीकृत कार्य की लागत 220.81 लाख रूपये है। वर्तमान में चार किलोमीटर की लम्बाई में नवीनीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है। विशेष मरम्मत योजना में मार्ग के आबादी वाले भागों में 1.42 किलोमीटर लम्बाई में सीसी मार्ग निर्माण करा दिया गया है। सुदृढ़ीकरण योजना में मार्ग के कुल 16.231 किलोमीटर लम्बाई में सड़क का जीर्णोद्धार एवं मरम्मत कार्य कराया जाना है। वर्तमान में कुल 8.50 किलोमीटर लम्बाई में कार्य पूर्ण कर लिया गया है, शेष सड़क पर कार्य प्रगति पर है।डीएम ने सड़क के बीचो-बीच गड्ढ़ा करवाते हुए मानक के अनुसार डाली गई लेयर देखी। इसके अलावा गेज भी परखा। डीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार के पास जनहित के विकास कार्यों के लिए धन की कमी नहीं है, अधिकारियों को चाहिए कि वह आवंटित धनराशि का जनहित में सदुपयोग करें। पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह धन आवंटन के बाद शीघ्रता से कार्य प्रारंभ करें ताकि परियोजना पूर्ण होने के बाद जनता को लाभ मिल सके। यदि परियोजनाएं समय से पूर्ण नहीं होती हैं तो सरकार को आर्थिक क्षति का सामना करना पड़ता है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने