अलीगढ़ | चुनावी हार से तिलमिलाए पूर्व प्रधान ने किया हमला


डेस्क
अलीगढ़: जवां में थाना गोधा क्षेत्र के गांव सुनामई में अपनी हार से तिलमिलाए एक पूर्व प्रधान ने वर्तमान प्रधान के समर्थक चाचा व भतीजे पर जानलेवा हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। मामले की रिपोर्ट पीड़ित ने पूर्व प्रधान सहित उसके परिवार के सात लोगों के खिलाफ दर्ज कराई है।
सुनामई निवासी प्रदीप शर्मा पुत्र स्वर्गीय जगदीश प्रसाद शर्मा अपने चाचा गया प्रसाद शर्मा के साथ रविवार की शाम को अपने खेत से घर लौट रहा था। करीब छह बजे गांव में रास्ते में घात लगाकर बैठे प्रधानी का चुनाव हारे पुष्पेंद्र उर्फ पूसा पुत्र सोहनलाल ने अपने परिवार के लोगों सुशील व गौरी शंकर उर्फ बॉबी पुत्रगण सोहनलाल, नीतू पुत्र दीनदयाल डीलर, नंदन पुत्र चोखे लाल व सत्य प्रकाश पुत्र चोखे लाल व आशीष पुत्र सुशील के साथ मिलकर तमंचा व लाठी-डंडों से लैस होकर मारपीट कर दी। इसमें दोनों चाचा-भतीजे गंभीर रूप से घायल हो गए। चीख-पुकार मचने पर कुछ अन्य लोगों ने आकर दोनों को बचाया। मामले की रिपोर्ट प्रदीप शर्मा ने उपरोक्त सभी के खिलाफ दर्ज कराई है।
वहीं खैर थाना क्षेत्र के गांव लक्ष्मनगढ़ी में दो पक्षों के बीच चुनावी रंजिश को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों पक्षों के बीच मारपीट के साथ फायरिग हो गई। पंचायत चुनाव भले ही निपट चुका है। हार-जीत का फैसला भी हो चुका है, लेकिन चुनावी रंजिश अभी भी जारी है।
ऐसा ही एक मामला गांव लक्ष्मनगढ़ी में देखने को मिला। घटना सोमवार रात नौ बजे की है, जहां दो पक्ष आपस में भिड़ गए और दोनों के बीच जमकर मारपीट के साथ फायरिग भी हुई। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची थाना पुलिस को देख लोग भागने लगे। एक पक्ष के लोग फरार हो गए और दूसरे पक्ष के पांच लोगों को पुलिस ने पकड़ लिया है। कोतवाल प्रवेश कुमार सिंह ने बताया कि चुनावी रंजिश में दो पक्षों में मारपीट हुई है। एक पक्ष फरार हो गया है, दूसरे पक्ष के पांच लोग हिरासत में लिए हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। फायरिग की घटना से इंकार किया है। दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जाएगी।
और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0