बुलंदशहर | मुखबिरों के बलबूते हल्ला बोल रही जिला पुलिस, एक और इनामी अपराधी गिरफ्तार

 


रिपो० ललित चौधरी 

बुलन्दशहर : जिला पुलिस अपराधियों की पकड़ धकड़ में लगी हुई है, लेकिन यहाँ मजबूती का आधार मुखबिर है अगर मुखबिर ना हो तो क्या पुलिसिया कार्रवाई को शून्य माना जाए।

पहासू थाना प्रभारी मुकेश कुमार के अनुसार मुखबिर द्वारा सूचना मिली की इनामी अपराधी सुनील पुत्र जसवंत निवासी करौरा थाना पहासू जिला बुलंदशहर जो कि गैंगस्टर में वांछित है साथ ही 20 हज़ार का इनामी अपराधी भी घोषित हो चुका है को पुलिस ने बाधऊ को जाने वाले बम्बे वाले रास्ते पर गिरफ्तार किया है। यहाँ बात करें पुलिस की कामयाबी की तो बिना मुखबिर पुलिस भी लाचार है।

पुलिस की सक्रियता का अन्दाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक भी अपराधी पुलिस ने अपने स्तर से या जाँच के आधार पर नही पकड़ा। 

इससे पहले भी पुलिस ने,,,

शिकारपुर कोतवाली क्षेत्र में माँ और बेटियों को हथौडे से मौत के घाट उतार देने वाले आरोपी सईद अहमद उर्फ सईद मेंटल मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार

अगौता थाना क्षेत्र में किसान को बेरहमी से पीट पीट के हत्या कर देने वाले पिंटू और शिवकुमार मुखबिर की सूचना से गिरफ्तार

पहासू गैंगस्टर में वांछित चल रहे इनामी अपराधियों देवांश,अंशुल,सतीश व रिंकू मुखबिर की सूचना से गिरफ्तार 

ककोड़ थाना जुगनू उर्फ कौशिक और करन मलिक गैंगस्टर एक्ट में वंचित चल रहे इनामी अपराधी मुखबिर की सूचना से गिरफ्तार किया था।

छतारी थाना बहन की हत्या का आरोपित आतिफ मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार हुआ था।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0