बुलंदशहर। पुलिस ने कच्ची शराब को बनाते तीन लोगो को किया गिरफ्तार, आबकारी विभाग मोंन

 

ब्यूरो ललित चौधरी

सरकार की सर्वाधिक आय का साधन आबकारी विभाग की लापरवाही के चलते क्षेत्र में कच्ची शराब की भट्ठियां धधक रही हैं। अंग्रेजी शराब के वैपर और खाली बोतलों में भरकर जनपद में शराब आपूर्ति का भंडाफोड़ नगर कोतवाली पुलिस ने किया था। कोतवाली देहात ने भी कच्ची शराब बनाने वाले आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की है

सिकंदराबाद क्षेत्र में अवैध शराब के सेवन से छह लोगों की मौत हो गई थी और तीन की आंखों की रोशनी चली गई थी। आबकारी विभाग इससे भी सबक नहीं ले रही है। क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक क्षेत्र में छापेमारी अभियान करना भूल गए हैं। नगर और देहात क्षेत्र में शराब की ओवर रेटिग हो रही है और जंगलों में कच्ची भट्ठियां धधक रही हैं। 

शनिवार देर रात कोतवाली देहात पुलिस को सूचना मिली कि गांव मिर्जापुर के जंगल में कुछ लोगों द्वारा अवैध तरीके से कच्ची शराब बनाई जा रही है। इस सूचना पर उपनिरीक्षक उजेंद्र सिंह ने पुलिस टीम के साथ बताए गए स्थान पर दबिश दी। पुलिस ने मौके से तीन आरोपी नेमसिंह उर्फ नेमी पुत्र शीशराम, तरूण कुमार पुत्र राजवीर सिंह एवं जगदीश भारती पुत्र महेश भारती निवासी गांव मिर्जापुर को कच्ची शराब बनाते हुए पकड़ लिया। तीनों आरोपितों द्वारा लहन का प्रयोग कर कच्ची शराब बनाई जा रही थी। पुलिस ने मौके से करीब दस लीटर कच्ची शराब, 40 किलोग्राम लहन और शराब बनाने के उपकरण बरामद किए। पुलिस ने लहन और कच्ची शराब को मौके पर ही नष्ट करा दिया गया।

कोतवाली देहात प्रभारी अरूणा राय के मुताबिक  तीनों आरोपितों को जेल भेजा जा रहा है। उधर, जिला आबकारी अधिकारी हुकुम सिंह को फोन किया गया तो संपर्क नहीं हो पाया।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0