अलीगढ़ | हरदुआगंज के बरौठा में बनी गौशाला का हाल बदहाल , गोवंश बेघर

 


डेस्क समाचार दर्पण लाइव

हरदुआगंज : सरकार द्वारा निराश्रित गोवंशों को आश्रय देने के लिए लाखों रुपये खर्च कर गांव-गांव गोशाला का निर्माण कराया गया मगर अफसरों ने निर्माण के बाद गोवंशों को रखने से पल्ला झाड़ लिया यही हाल धनीपुर ब्लॉक के गांव बरौठा में भी देखने को मिल रहा है। यहां गोशाला का संचालन न होने से सडक़ पर भटक रहे गोवंश किसानों की मुसीबत के साथ दुर्घटना का कारण बन रहे हैं।

हरदुआगंज क्षेत्र में रामघाट रोड किनारे स्थित गांव बरौठा में बीते साल लाखों रुपये की लागत शाहपुर मार्ग पर तीन बीघा जमीन में गोशाला बनाई गई थी, जिसमें टिन शेड, चारा खाने का स्थल, पानी आदि के इंतजाम किए गए थे, आसपास के करीब एक दर्जन गांवों के बीच गोशाला बनने पर प्रचार भी किया गया था, बरौठा व शाहपुर के ग्रामीणों का कहना है कि गोशाला होने से लोग गायों को यहां छोड़ जाते हैं, यहां दर्जनों की संख्या में घूम रहे गोवंश फसलों को उजाड़ रहे हैं, रात में रोड पर हादसे का कारण बन रहे हैं गोवंश भी घायल होते हैं, जो देखरेख के अभाव में तडफ़कर दम तोड़ देते हैं, गोशाला संचालन को लेकर ग्राम प्रधान पल्ला झाड़ते दिखते हैं। वहीं एडीओ धनीपुर लोकमन दास से संपर्क करने का प्रयास किया तो उनका फोन रिसीव नहीं हो सका।

खंडर बन गयी गौशाला

बरौठा की गौशाला का आलम ये है कि लाखों रुपये की लागत से बनी गौशाला महज खंडर बन कर रह गयी है पूरे परिसर में झुंड झाड़ियां उग आए हैं। मुख्य गेट भी जर्जर पड़ा है।

शराबियों का अड्डा बनी गौशाला

चारों तरफ खेत, ना कोई रोकने टोकने वाला, पानी की भी सुविधा ऐसे में ये जगह शराबियों के लिए सुरक्षित स्थान साबित हो रही है। परिसर में खाली पौवा गिलास पड़े दिख जाएंगे। बराबर में ही मुस्लिम समुदाय का कब्रिस्तान है। ऐसे में शराबियों का जमावड़ा व गंदगी मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को आहत कर रही है।

देखें वीडियो,,,

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0