बुलंदशहर। पत्रकार को गांव में चलाना पड़ा सफाई अभियान : अरुण कुमार

 

रिपो० रिशू कुमार

शिकारपुर ब्लॉक के गांव महमूदपुर में पिछले काफी लम्बे समय से अटे पडे है नाले व नालियां नालियों में भारी कीचड़ जमा होने के कारण कोई भी सफाई कर्मचारी गांव के अन्दर सफाई करने नहीं आया इसको देखते हुए पत्रकार अरुण कुमार, ने नालियों में अटी पड़ी कीचड़ को साफ किया भारत सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार साफ-सफाई पर भारी पैसा खर्च कर रही है और स्वच्छ भारत अभियान पर भारी पैसा विज्ञापन के माध्यम से भी खर्च कर रही है।

बताते चलें की साफ सफाई की व्यवस्था को लेकर ग्रामीणों में भारी रोष दिखाई दे रहा है क्योंकि पिछले लम्बे समय से शिकारपुर ब्लॉक क्षेत्र के अधिकांश गांव में साफ-सफाई की व्यवस्था शून्य नजर आ रही है शासन प्रशासन के आदेशों की धज्जियां ग्राम प्रधान किस प्रकार उड़ा रहे है जो गांव की साफ सफाई पर भी ध्यान नही है आखिर पत्रकारों को भी गांव की साफ-सफाई व्यवस्था करने पर मजबूर होना पड़ा जबकि यह पूरा काम ग्राम प्रधान व सफाई कर्मचारियों के कंधे पर होता है।

लेकिन ग्राम प्रधान व सफाई कर्मचारी साफ-सफाई को लेकर पूरी तरह फेल नजर आ रहे है आखिर शासन प्रशासन ऐसे ग्राम प्रधानों को संज्ञान में क्यों नहीं लेना चाहती जो कि साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक से नही कर सके ऐसा ही नजारा शिकारपुर ब्लॉक के गांव महमदपुर में देखने को मिला।

पूर्व प्रधान का कार्यकाल जबसे समाप्त हुआ है तब से लेकर खबर लिखे जाने तक ग्राम प्रधान ने साफ-सफाई के कार्य को नहीं कराया क्या सफाई कर्मचारी को वेतन नहीं दिया जाएगा अगर दिया जाएगा तो किस बात का होगा तब सफाई कर्मचारी ने गांव की सफाई तक नहीं की ।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0