अलीगढ़ | तालानगरी में बजबजाते नाले और सड़क पर बिल्‍डिंग मैटेरियल देख डीएम नाराज, अधिकारी को फटकारा

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़ : रामघाट रोड स्थित ताला नगरी का मंगलवार को डीएम सेल्वा कुमारी ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हों गंदगी से बजबजाते हुए नाले, इस औद्योगिक क्षेत्र की सर्विस सड़कों पर बदरपुर, बालू व अन्य बिल्डिंग मेटेरियल के ढेर मिले। उन्होंने उत्तर प्रदेश औद्योगिक विकास प्राधिकरण के क्षेत्रीय अधिकारी संजू उपाध्याय को तलब करते हुए जमकर फटकार लगाई। पूछा कि कब तक यह हट जाएंगे। उपाध्याय ने 24 घंटे में न हटाने पर माल जब्त करने का आश्वासन दिया है।

13 अगस्‍त को थी उद्योग बंधु की बैठक

दरअसल, 13 अगस्त को डीएम की पहली उद्योग बंधु की बैठक थी, इसमें ताला नगरी औद्योगिक विकास एसोसिएशन के अध्यक्ष नेकराम शर्मा ने ताला नगरी की दुर्दशा पर चिंता व्यक्त की थी। उन्होंने तर्क भी दिया, कि इस तरह की बैठक में समस्याएं तो बहुत उठती हैं, आला अफसर अमल कम करते हैं। स्थलीय निरीक्षण न होने पर गड़बड़ियों को बढ़ावा दिया जाता है।

चोक नालों को देखकर डीएम ने जतायी नाराजगी

डीएम सेल्वा अपने लाव लश्कर के साथ ताला नगरी पहुंची। उन्होंने चौक नालों पर नाराजगी व्यक्त की। उनकी सफाई के निर्देश दिए। नालियों की सिल्ट बाहर निकली हुई पड़ी थी। डीएम ने भ्रमण के दौरान देखा कि सड़क पर बदरपुर और रोड़ी काफी अस्त-व्यस्त अवस्था में पड़ा हुआ है, जिससे नालियां अवरूद्ध हैं। उद्यमियों ने तालानगरी में रात्रि पेट्रोलिंग बढ़ाए जाने की मांग की। उनका कहना है कि फैक्ट्रियां एक शिफ्ट में कार्य कर रही हैं, शाम होते ही अराजक तत्वों का जमावड़ा सड़क किनारे रखी गुमटियों पर लगना शुरू हो जाता है, जिससे उद्यमी एवं श्रमिक अपने को असुरक्षित महसूस करते हैं। यही कारण है कि अंधेरा होने से पहले लोग अपने गंतव्‍य पहुंचना चाहते हैं। इस मौके पर सीडीओ अंकित खंडेलवाल, एसडीएम कोल कुवंर बहादुर सिंह, उपायुक्त उद्योग श्रीनाथ पासवान, उद्यमी चंद्र शेखर शर्मा, सुनील दत्ता, उपेंद्र पांडेय,लल्लू सिंह, मुनेश पाल सिंह आदि मौजूद थे।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0