अलीगढ़ | शिक्षक हत्याकांड ... महिला सरगना समेत देह व्यापार के तीन आरोपी गिरफ्तार

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़ :कासिमपुर रोड पर पिछले दिनों शिक्षक की हत्या में पुलिस ने देह व्यापार से जुड़ी एक महिला सरगना समेत चार लोगों को पकड़ा है। इस महिला ने ही शिक्षक के पास कॉलगर्ल भेजी थी। पूछताछ में इन आरोपियों ने अलीगढ़ शहर के कई होटलों के नाम पुलिस को बताए हैं जहां वह ग्राहकों को कॉलगर्ल मुहैया कराते थे। मंगलवार को न्यायालय के आदेश पर सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

थानाध्यक्ष रामवकील सिंह ने बताया कि शिक्षक के मोबाइल की कॉल डिटेल से इस हत्या की पूरी कहानी परत-दर-परत खुलती चली गई। मुख्य आरोपी सोनू ने आत्महत्या कर ली थी। जिस कॉलगर्ल को लेकर शिक्षक और मुख्य आरोपी के बीच झगड़ा हुआ था उसने पूछताछ में गैंग सरगना समेत अन्य आरोपियों के नाम उजागर किए थे। मंगलवार को तड़के पहर पुलिस टीम ने कमिश्नरी के सामने जवाहर कालोनी के गेट के पास से शशांक वार्ष्णेय पुत्र प्रदीप कुमार वार्ष्णेय निवासी सराय हकीम थाना बन्नादेवी, विराट पुत्र अनिल कुमार सैनी निवासी बेगमबाग विष्णुपुरी थाना क्वार्सी, चंद्रशेखर पुत्र सत्यपाल निवासी धनीपुर मंडी थाना गांधीपार्क तथा सलमा खान उर्फ मीनू पुत्री फजल खान मूल निवासी साकेत ब्लाक जी मडावली थाना विनोद नगर दिल्ली तथा हालमुकाम महेशपुर चौक सिविल लाइंस को पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपियों ने देह व्यापार से जुड़े होने की बात स्वीकार की। शहर के कई होटलों के नाम बताए जहां वह कॉलगर्ल भेजते थे।

- देहलीगेट, रोरावर थाना क्षेत्र के पांच होटलों की छानबीन कर सीसीटीवी, डीवीआर और रजिस्टर जब्त कर जांच शुरू की गई है। होटल संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी। अन्य होटलों की भी जांच जारी है। - रामवकील सिंह, थानाध्यक्ष हरदुआगंज।

खुलासे से खुश नहीं मृतक के परिजन
मृत शिक्षक के बडे़ भाई डोरीलाल शर्मा और पुत्र दिव्यांक शर्मा पुलिस के खुलासे से संतुष्ट नहीं है। वह शिक्षक के चरित्रहीन होने की पुलिस की कहानी पर हैरानी जता रहे हैं। परिवार वाले इस पूरी कहानी को पुलिस का षणयंत्र बता रहे हैं। वहीं पुलिस की विवेचना से परिवार संतुष्ट नहीं है। ऐसे में घटना की जांच किसी अन्य थाने से कराई जाए की मांग की है।
और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0