अलीगढ़ के जवां में घर में घुसा तेंदुआ, परिवार पर किया अटैक, 12 घंटे बाद किया जा सका रेस्क्यू

SDLive News

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में जवां गांव में एक घर में तेंदुआ घुस जाने से सनसनी मच गई। गांव में तेंदुए ने एक बच्चे पर हमला कर दिया, जिससे बच्चा घायल हो गया। तेंदुए का हमले के बाद ग्रामीणों ने उसे एक कमरे में बंद कर दिया है। बाद में पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर आई और लगभग 12 घंटे के रेस्कयू के बाद तेंदुए को पकड़ा जा सका।

घटना को लेकर अलीगढ़ के जिला वन पदाधिकारी दिवाकर वशिष्ठ ने बताया कि हमें जानकारी मिली थी कि गांव के ही प्रेम कुमार के घर में तेंदुआ घुस गया है। जिसके बाद अलीगढ़ वन विभाग की रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और इलाके की घेराबंदी कर दी। बता दें कि इस दौरान गांव के लोग तेंदुए को देखने के लिए प्रेम कुमार के घर जमा रहे।

क्या है मामला:

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले की जवां नगर पंचायत में शनिवार (7 जनवरी) की सुबह साढे़ आठ बजे एक गेंहू के खेत में कुछ हलचल हुई, तो वहां 15 साल का विशाल देखने पहुंचा। उसे लगा कोई जानवर है, उसे भगाने के लिए जैसे ही विशाल ने पत्थर मारा तेंदुए ने बच्चे पर जानलेवा हमला बोल दिया। बच्चे की चिल्लाहट सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तो तेंदुआ गांव के अंदर की तरफ भागा।

गांव में तेंदुआ घुसा तो कई घरों के दरवाजे बंद थे तो वहीं प्रेम मुरारी पुत्र देवी शरण के घर के एक कमरे वह घुस गया। उसके बाद एहतियात के तौर पर ग्रामीणों ने कमरे का दरवाजा बाहर से लॉक कर लिया। वहीं प्रेम कुमार के परिवार के सदस्यों ने अपनी जान बचाने के लिए खुद किचन में बंद कर लिया। वहीं इटावा सफारी वाइल्ड लाइफ की टीम और अलीगढ़ मंडल के चारों जिलों के डीएफओ के निर्देशन में तेंदुए को पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया गया। करीब 12 घंटे चले इस ऑपरेशन में रात आठ बजे तेंदुए को बेहोश कर पकड़ा गया। मंडलीय वन अधिकारी अदिति शर्मा ने जानकारी दी कि तेंदुआ को पिंजड़े में बंद कर दिया गया है। शासन को पत्र लिखकर तेंदुआ को किसी सुरक्षित जगह छोड़ने के लिए मांग की गई है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने