अलीगढ़ | खेत में सो रहे बुजुर्ग दंपती की हत्या,पुलिस ने 3 बेटों को लिया हिरासत में, जानिए पूरा मामला


SDLive News

अलीगढ़ में शनिवार को बुजुर्ग दंपती का शव खेत में पड़ा मिला। दोनों पति-पत्नी खेत में ही झोपड़ी बनाकर परिवार से अलग रहते थे। जबकि उनके तीन बेटे गांव में मकान में रहते थे।

सुबह पोती झोपड़ी में दूध लेकर आई थी। तब उसने दोनों के शव देखे तो चीखकर भागी और लोगों को बताया। जिसके बाद ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई और लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।घटना की जानकारी मिलने पर एसएसपी कलानिधि नैथानी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच के लिए टीमों का गठन किया है।

मृतक रामजीलाल।
ग्रामीण बोले, संपत्ति का चल रहा था विवाद

इगलास के गांव बादामपुर निवासी रामजीलाल (80) और उनकी पत्नी भगवान देवी (70) पिछले कई सालों से अपने परिवार से अलग रह रहे थे। वह गांव के बाहर खेतों में दुर्गा मंदिर के पास झोपड़ी डालकर रहते थे। शनिवार को दोनों पति पत्नी के शव मृत अवस्था में मिले हैं।

दोनों के शरीर पर चोंट के निशान हैं और गले में भी निशान पाए गए हैं। जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मौके पर पहुंची फारेंसिक टीम ने झोपड़ी के अंदर से साक्ष्य जुटाए हैं। वहीं यह आशंका जताई जा रही है कि गला दबाकर दोनों की हत्या की गई है।

मृतक भगवान देवी।

संपत्ति का चल रहा था विवार, बेटे हिरासत में

घटना के बाद पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ की है। जिसमें प्रारंभिक जांच में संपत्ति का विवाद सामने निकलकर आ रहा है। दंपत्ति के पास 20 बीघा जमीन थी, जिसकी देखभाल वह खुद ही करते थे और अपने तीनों बेटों से अलग गांव के बाहर रहते थे।

बुजुर्ग दंपत्ति की चार बेटियां भी थी, जिनकी शादी वह पहले ही कर चुके थे। इसके बाद से ही उनके घर में संपत्ति बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था और उन्होंने बेटों से अलग रहना मुनासिब समझा था। पुलिस ने दंपत्ति के तीनों बेटों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस की टीमें जांच में जुटी

घटना के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी खुद मौके पर पहुंचे और सारी स्थितियों का जायजा लिया। उन्होंने थाने की टीम के साथ दो और टीमों का गठन किया है, जो मामले की जांच में जुट गई हैं। पुलिस का दावा है कि जल्दी ही घटना का खुलासा किया जाएगा।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और वैज्ञानिक साक्ष्य भी जुटाए जा रहे हैं। संदेह के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है और जल्दी ही घटना का खुलासा करते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने