अलीगढ़ में ट्रक-कैंटर में भिडंत से लगी आग, जिंदा जले दोनों चालक

ब्यूरो अभिषेक चौधरी

जवां थाना क्षेत्र के अनूपशहर नेशनल हाइवे पर सोमवार रात भीषण हादसा हो गया। ट्रक-कैंटर में आमने-सामने की भिडंत के बाद आग लग गई। आग इतनी भयंकर लगी कि दमकल गाडियों ने करीब चार घंटें की मशक्कत के बाद बामुश्किल काबू पाया। हादसे में दोनों ट्रकों के चालक की वाहन के अंदर ही जिंदा जलकर मौत हो गई। 

जिला रामपुर के मिलखा थाना क्षेत्र के गांव किरमचा निवासी हरवेन्द्र (45) पुत्र दिलीप चालक था। परिवार में तीन बच्चे व पत्नी हरप्रीत कौर हैं। परिजनों के अनुसार सोमवार की रात वह कैंटर में (राख) डस्त लादकर शाहजहांपुर से अलीगढ़ आ रहा था। रास्ते में वह मुरादाबाद नेशनल हाइवे नंबर 509 स्थित नगौला के पास पहुंचा ही था कि सामने से तेज गति से आ रहे ट्रक से उसकी जोरदार भिडंत हो गई। सामने से आ रहे ट्रक को इगलास के गांव मई निवासी श्याम विहारी (35) चला रहा था। दोनों वाहनों में आमने-सामने की जबरदस्त भिडंत से आग लग गई।

 आग लगते ही दोनों वाहन आग का गोला बन गये। कोई कुछ समझ पाता, इससे पहले ही दोनों वाहनों में बैठे चालक आग की चपेट में आ गये। जिससे दोनों चालकों की मौके पर ही जलकर मौत हो गई। करीब चार घंटें तक दमकल की गाडियों ने आग पर काबू पाया। शव को बाहर निकाला गया, तो वह पूरी तरह जल चुके थे। दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया। 

 पेट्रोल पंप के कर्मचारी व ग्रामीणों ने दौड़ कर किया सहयोग

-तेज आवाज के साथ हुए धमाके की आवाज सुनकर पंट्रोल पंप पर नौकरी कर रहे कर्मचारी व पास के गांव के ही ग्रामीण मौके पर पहंच गए। उन्होंने दमकल टीम के साथ राहत कार्य में अपना सहयोग दिया। लेकिन तब तक चालक दम तोड चुके थे। 

हादसे के बाद घंटों बनी रही जाम की स्थिति 

-हादसे की खबर मिलते ही दो थानों का पुलिस फोर्स मौके पर पहंुच गया। सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। घंटों जाम की स्थित बनी रही। उधर खबर मिलते ही दमकल की चार गाड़ियां मौके पर पहुंच गई। करीब चार घंटे की मशक्कत के बाद दमकलों ने बमुश्किल आग पर काबू पाया।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने