अलीगढ़ में युवक ने मां से कहा- अब जीना नहीं चाहता हूं, कनपटी पर तमंचे से गोली मारकर दे दी जान



SDLive News

यूपी के अलीगढ़ में भाई से नोंकझोंक होने के बाद छोटे भाई ने तमंचे से गोली मारकर आत्महत्या कर ली. 25 वर्षीय युवक खेत में काम करने के बाद घर आया था और मां से कहा कि अब जीने की इच्छा नहीं है, कोई साथ नहीं देता है और खुद को तमंचे से गोली मारकर आत्महत्या कर ली.

घटना थाना चंदौस के गांव सूरजपुर इलाके की है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.


तीन भाइयों में छोटा था युवक


25 वर्षीय यशपाल तीन भाई और एक बहन है. बहन की शादी हो गई है. वहीं यशपाल भाइयों में सबसे छोटा है. बड़ा भाई ओमपाल उर्फ कालू बुलंदशहर जेल में हत्या के मामले में बंद है. वहीं मंझला भाई शिवकुमार जो 4 दिन पहले विवाद होने के बाद अलीगढ़ आ गया था. वहीं घर में बुजुर्ग मां रहती है. गुरुवार को मक्का के खेत में काम करने के बाद यशपाल घर आ गया और अचानक घर पहुंचकर मां से कहा कि अब जीना नहीं चाहता, कोई साथ नहीं देता और कमरा बंद करके तमंचे से गोली मार ली.


मक्का काटकर खेत से घर आया और कर ली आत्महत्या


वहीं बुजुर्ग मां ने बताया कि खेत से घर आकर कहने लगा कि अब जीना नहीं है. इस दौरान बहन घर से बाहर कुछ काम के लिए निकली थी. यशपाल ने दरवाजा बंद कर तमंचे से कनपटी पर रखकर गोली मारकर आत्महत्या कर ली. गांव के रहने वाले रोहित ने बताया कि एक भाई जेल में है और वहीं दूसरा भाई अलीगढ़ में रहता है रोहित ने बताया कि मक्का काटकर खेत से घर आया और मां से कहा कि मुझे नहीं जीना है मेरा कोई दुनिया में साथी नहीं है, इससे बढ़िया मर जाना बेहतर है.

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा


मौके पर क्षेत्राधिकारी गभाना सुमन कनौजिया थाना चंदौस इंस्पेक्टर सीताराम सरोज पहुंच गए. फॉरेंसिक टीम भी घटना की जांच के लिए पहुंची. शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. क्षेत्राधिकारी सुमन कनौजिया ने बताया कि यशपाल गुस्सैल स्वभाव का व्यक्ति था और दो महीने पहले मां के साथ भी विवाद हुआ था. वहीं मामले की जांच की जा रही है.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने