अलीगढ़ | भाई ने सुपारी देकर करा दी सगे भाई की हत्या वजह जानकर रह जाएंगे हैरान


डेस्क समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़ के पिसावा थाना क्षेत्र के गांव डेटा सैदपुर में  भाई ने सगे भाई की हत्या कराकर सबसे मजबूत कहे जाने वाले रिश्ते को कलंकित कर दिया, 26 मई  को युवक की  गोली मारकर  हत्या कर दी गई थी। जिसका सच हैरान करने वाला है

 26 मई की सुबह  डेटा सैदपुर का विजयपाल पुत्र महेंद्र सिंह शौच को निकला था, जिसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मृतक के भतीजे सौरभ ने गांव के ही वीरपाल सिंह,मनोज कुमार,लटूरी सिंह व प्रमोद सिंह को नामजद कराया था। वहीं एसएसपी ने एसओ जितेंद्र सिंह भदौरिया व एसओजी के देहात प्रभारी रोहित राठी के नेतृत्व में  टीम गठित कर हत्या की सही वजह जानने को लगाया गया।पुलिस के अनुसार आरोपियों के मोबाइल सीडीआर के आधार पर जुटाए तथ्य कुछ और ही कह रहे थे। कड़ियां जोड़ने पर मृतक के भाई की ही साजिस का हैरतअंगेज सच सामने आया। पुलिस ने शुक्रवार को डेटा सैदपुर के प्रशांत को हिरासत में लेकर शनिवार को हत्या इस रहस्य से पर्दा उठाया। पुलिस के अनुसार  मृतक विजयपाल का गांव में ही एक जमीनी विवाद चल रहा था जिसमें हुए फैसले में विजयपाल को 25 लाख रुपये मिलने वाले थे, जिसमे धनपाल हिस्सेदारी चाहता था, जबकि विजयपाल ने   रकम देने से इंकार कर दिया था। इसी बात से नाराज  धनपाल ने विजयपाल की हत्या की साजिश रची और डेढ़ लाख रुपए में हत्या को सुपारी प्रशांत को दे दी। प्रशांत ने अपने साथी लक्ष्मण पुत्र सुभाष एवं सोनू पुत्र सुखपाल निवासी माच्छड़ थाना जहांगीरपुर बुलन्दशहर के साथ मिलकर घर से शौच के लिए निकले विजयपाल को मौत के घाट उतार दिया। की गोली मारकर हत्या कर दी। भाई की हत्या कराने के बाद धनपाल ने तीर से दो निशाने लगते हुए अपने विपक्षी वीरपाल व उसके पुत्र व दो रिश्तेदारों को हत्या में इल्जाम में फंसा दिया।  पुलिस ने धनपाल, सुपारी किलर प्रशांत को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त असलाह बरामद करते हुए दोनों को जेल भेज दिया।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0