अलीगढ़ | बर्खास्‍त पुलिसकर्मी ने भतीजे को बेरहमी से पीटा, मौत

   

डेस्क समाचार दर्पण लाइव          

विजयगढ़ थाना अंतर्गत ग्राम नगला केसिया में एक व्यक्ति ने अपने ही भतीजे को बेरहमी से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। गांव में हुई घटना की भनक किसी को नहीं लग सकी। कई घंटे बाद घर में जब रोना पीटना शुरू हुआ तब कहीं जाकर लोगों को पता चला तो किसी ने पीआरबी को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अलीगढ़ भेजा है। घटना रविवार की शाम 4:00 बजे की बताई गई है।

आरोपित पुलिस में नौकरी करता था

उक्त गांव में रहने वाले उमेश यादव के दो बेटे आकाश एवं विकास हैं।  आकाश उम्र 22 वर्ष कहीं बाहर किसी होटल में नौकरी करता था जो गांव में आया हुआ था।  मृतक का ताऊ राजेश पुलिस में नौकरी करता था, उसकी दो पत्नियां थी, बड़ी पत्नी से विवाद के चलते हाल फिलहाल 2 वर्ष बर्खास्त चल रहा है। ग्रामीणों के अनुसार बर्खास्त राजेश ने शराब के नशे में किसी बात को लेकर अपने भतीजे को पकड़कर मारना पीटना शुरू कर दिया था । बताते हैं इतनी बेरहमी से पिटाई की गई जैसे उसके साथ थर्ड डिग्री का प्रयोग किया गया हो। कुछ लोगों ने उसे बचाने का भी प्रयास किया लेकिन सबको गाली गलौज कर भगा दिया था । परिवार के ही लोग उसे उपचार के लिए विजयगढ़ लाए थे जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बर्खास्त राजेश उस समय एटा चला गया। गांव के किसी व्यक्ति ने पीआरबी को सूचना दी।  बताया जाता है कि आरोपित एटा से अपनी कार द्वारा वापस आ गया था लेकिन पुलिस को देख कर भाग गया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए अलीगढ़ भेज दिया है तथा उसकी कार को कब्जे में ले लिया है। गांव के ही निवासी धर्मेंद्र यादव ने राजेश एवं लोकेश के खिलाफ तहरीर दी है। इंस्पेक्टर दया नारायण त्रिपाठी ने बताया किसी बात को लेकर ताऊ ने ही अपने भतीजे की पीट-पीटकर हत्या की है पुलिस जांच में जुटी है।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0