अलीगढ़ में अधिवक्ताओं का प्रदर्शन, पुलिस को कोर्ट में जाने से रोका, जानिए वजह

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़ : जवां में एक अधिवक्ता के घर पुलिस की दबिश देने के मामले में कोई कार्रवाई न होने व न्याय शुल्क में 10 गुना बढ़ोतरी के विरोध में शुक्रवार को अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहे। इस दौरान सुबह से ही पुलिस को दीवानी न्यायालय में घुसने से रोका गया। वहीं अधिवक्ताअों ने दीवानी के बाहर सड़क पर आकर जाम लगा दिया और प्रदर्शन किया। हालांकि सीओ तृतीय ने मौके पर आकर अधिवक्ताओं से बातचीत करके कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर अधिवक्ता शांत हुए।

यह है मामला

हाईकोर्ट बेंच स्थापना केंद्रीय संघर्ष समिति (पश्चिमी उत्तर प्रदेश मेरठ) के आह्वान पर दि अलीगढ़ बार एसोसिएशन की ओर से शुक्रवार को एक दिवसीय हड़ताल की जा रही है। अध्यक्ष बृजेश सिंह व महासचिव संजय पाठक ने बताया कि एक आरोपित की तलाश में पुलिस ने जवां में पुष्पेंद्र रघुवंशी के घर दबिश दी। लेकिन, अभी तक दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई नहीं की गई। इसके अलावा शोक प्रस्ताव होने के बावजूद 15-20 अधिवक्ताओं ने काम किया था। ऐसे अधिवक्ताओं पर दो हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। न देने पर सदस्यता रद भी की जाएगी। इनके विरोध में अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहे। इस दौरान न्याय शुल्क में 10 गुना बढ़ोतरी का भी विरोध किया गया। शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे अधिवक्ता दीवानी से बाहर आए और प्रदर्शन किया। सीओ ने वकीलों से आकर बातचीत की। कहा कि जांच के बाद इसमें कार्रवाई की जा रही है। आश्वासन के बाद अधिवक्ताओं ने पुलिस को अंदर जाने की अनुमति दी। हालांकि न्यायिक कार्य से विरत रहे।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने