चोरों को पकड़ने के बजाय पुलिस ने आपस मे बांट लिए 1 लाख, सभी आरोपी गिरफ्तार

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

पुलिस की जिम्मेदारी किसी अपराध की सही तफ्तीश कर अपराधी को सलाखों के पीछे पहुंचाने की होती है, लेकिन अगर पुलिस चंद रुपयों के लिए अपराध पर पर्दा डाल दे तो क्या कहेंगे? दरअसल, ऐसा ही एक मामला सामने आया है फिरोजाबाद के रसूलपुर थाना इलाके के सिरसागंज में. पुलिस ने चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने के बजाय उनसे रुपये ले लिए और अपराधियों को रवाना कर दिया.

मामले का पता तब चला जब चोर पकड़े गए और एसएसपी के सामने पुलिसकर्मियों की करतूतों का पिटारा खोलकर रख दिया. मामले में कार्रवाई करते हुए एसएसपी ने चारों पुलिसकर्मियों और दो चोरों को गिरफ्तार करवा कर जेल भेज दिया है.

पूरा मामला सिरसागंज का है. दरअसल, चंद रोज पहले दो चोरों ने एक ई रिक्शा में से एक लाख दस हजार रुपए चुरा लिए थे. चोरों ने बताया कि जब वे चोरी कर मोटरसाइकिल से जा रहे थे तो तभी सिरसागंज में चेकिंग के दौरान पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया. तलाशी के दौरान उकसे पास से 1 लाख रुपये बरामद हुए. चोरों ने बताया कि पुलिसकर्मियों ने उनसे 96 हजार रुपये लिए लिए और बाकी चार हजार रुपये देकर सिरसागंज से बाहर तक जाने के लिए अपनी गाड़ी उनके पीछे लगाकर वहां से निकलवा दिया. जब चोर पकड़े गए तो उन्होंने सारी बात एसएसपी को बताई.

एसएसपी ने चारों पुलिसकर्मियों को बुलाया और पूछताछ की तो बात सही निकली. पुलिसकर्मियों के पास से 96 हजार रुपये भी बरामद हुए. इसको लेकर एसएसपी अशोक कुमार शुक्ला ने चारों पुलिसकर्मियों को ओर उन दो चोरों को थाना रसूलपुर पुलिस से गिरफ्तार करा कर जेल भेज दिया है.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने