बुलंदशहर। एसएसपी ऑफिस में पेट्रोल की बोतल लेकर आत्मदाह करने पहुंचा परिवार, जानिए वजह

 


ब्यूरो ललित चौधरी

बुलंदशहर के एसएसपी ऑफिस में पेट्रोल की बोतल लेकर एक परिवार आत्मदाह करने पहुंचा तो हड़कंप मच गया। विवाहित बेटी की मौत के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न होने से परिवार परेशान है यही वजह है कि ये लोग एसएसपी के दफ्तर पहुंचे थे।

एलआईयू की सतर्कता से बड़ा हादसा टल गया। एलआईयू की सूचना पर एएसपी शशांक सिंह ने पीड़ित परिवार से पेट्रोल की बोतल जब्त कर ली। पीड़ित परिवार को एएसपी एसएसपी के पास लेकर पहुंचे, जहां पीड़ित परिवार की फरियाद सुनने पर एसएसपी में सीओ खुर्जा को जरूरी जांच के आदेश दिए हैं। पीड़ित परिवार ने विवाहित बेटी के हत्या का आरोप मृत बेटी के पति, सास और सास के प्रेमी पर लगाया।

यह है पूरा मामला

शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे खुर्जा क्षेत्र के मोहल्ला देवीधाम निवासी रामबाबू अपनी पत्नी शकुंतला, मां कांति और एक बालिका के साथ पुलिस आफिस पहुंचे। सभी के हाथों में तख्ती थी, जिस पर लिखा था, कप्तान साहब... हमें न्याय चाहिए। थैले में एक बोतल में पेट्रोल था। पीड़‍ित परिवार ने आत्मदाह करने की बात कहते हुए थैले से बोतल निकाल ली। यह देखकर पुलिसकर्मी हरकत में आ गए और उन्होंने बोतल छीन ली। इसके बाद पीडि़त परिवार को एसएसपी से मिलाया गया।

रामबाबू ने बताया कि उनकी पुत्री अर्चना ने वर्ष 2018 में मोहल्ले के ही एक युवक से शादी की थी। 18 अगस्त 2021 को उन्हें पुत्री की मौत की खबर मिली। पोस्टमार्टम के बाद बिसरा जांच के लिए रखा गया। कई बार कोतवाली के चक्कर लगाने और अधिकारियों से मिलने के बावजूद अभी तक खुर्जा पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। एसएसपी ने पीड़‍ित परिवार को जांच कराकर सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। जांच सीओ खुर्जा को सौंपी है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने