अलीगढ़ में मृतक को लगा दी गई कोरोना वैक्सीन, मोबाइल नम्बर पर आया मैसेज तो उड़े भाई के होश

डेस्क, समाचार दर्पण लाइव

अलीगढ़ : कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए सरकार लगातार लोगों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने के लिए जागरूक करने में जुटी हुई है.इसी बीच, अलीगढ़ में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां मरे हुए व्यक्ति को कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगा दी गई. मामले पर स्वास्थ्य विभाग ने जांच कराने की बात कही है.

अलीगढ़ के अलीनगर में चिस्तिया मस्जिद के पास रहने वाले मोहम्मद आसिफ को कोरोना की पहली वैक्सीन कोविशील्ड 17 सितंबर 2021 को लगी. दिसंबर में मोहम्मद आसिफ को दूसरी रोज लगनी थी. दूसरी डोज लगने से पहले ही 8 दिसंबर को मोहम्मद आसिफ की मृत्यु हो गई. मोहम्मद आसिफ को सुपुर्द-ए-खाक भी कर दिया गया. पर शनिवार 15 जनवरी 2022 को मोहम्मद आसिफ के भाई रिजवान पर मोबाइल में एक मैसेज आया.

मैसेज पढ़कर रिजवान के होश ही उड़ गए. मैसेज में लिखा था कि मोहम्मद आसिफ को कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड की दूसरी डोज लगा दी गई है. आप अपना सर्टिफिकेट पोर्टल से डाउनलोड कर लें.

मृतक मोहम्मद आसिफ के बड़े भाई रिजवान ने प्रभात खबर को बताया कि मोहम्मद आसिफ की मृत्यु 8 दिसंबर को हो गई थी, जिसे कब्रिस्तान में 38 नंबर की कब्र में दफना दिया गया था. मृत्यु के 1 महीने 7 दिन बाद दूसरी डोज लगने के मैसेज से दंग रह गए.

पोर्टल से सर्टिफिकेट डाउनलोड किया, तो पता चला कि मृतक आसिफ को दूसरी डोज 15 जनवरी 2022 को पीएचसी छलेसर पर मनोज कुमार ने लगा दी है. जबकि मोहम्मद आसिफ का मृत्यु प्रमाण पत्र और कब्रिस्तान की रसीद यह दिखा रही है कि मोहम्मद आसिफ की मृत्यु 8 दिसंबर 2021 को हो गई.

मामले की होगी जांच

मृतक को भी कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाने के मामले पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नीरज त्यागी ने कहा है कि निश्चित तौर पर पोर्टल पर डाटा अपलोड करते हुए मिस्टेक हुई है. ऐसा कैसे हुआ, इसकी जांच कराई जाएगी और मिस्टेक को दुरुस्त कराया जाएगा

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0