अलीगढ़ में प्रदर्शनकारियों ने 5 गाड़ियां फूंकी, चौकी में तोड़फोड़:अग्निपथ के विरोध में 5 घंटे तक यमुना एक्सप्रेस वे किया जाम, SDM को बनाया बंधक

ब्यूरो चीफ, अलीगढ़

अलीगढ़ :- अग्निपथ योजना को लेकर देश भर में जहां युवा आंदोलित हैं, वहीं अलीगढ़ में भी इसका असर दूसरे दिन भी देखने को मिला। शुक्रवार दोपहर को आंदोलित युवाओं ने यमुना एक्सप्रेस वे पर रोडवेज बस में तोड़फोड़ की। वहीं एक्सप्रेस वे पर जाम लगा दिया। इसके बाद जट्‌टारी पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने तीन बसें और दो पुलिस के वाहन भी फूंक डाले। जब पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने उनके ऊपर हमला कर दिया। जिसमें सीओ समेत 4 पुलिस वाले घायल हो गए। घायलों का इलाज नजदीक के स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है। अलीगढ़ में SDM खैर संजय मिश्रा को बंधक बना लिया गया है। वहीं दो युवकों को छर्रे भी लगे हैं।

टप्पल हाईवे को 5 घंटे तक किया जाम

अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने टप्पल स्थित नेशनल हाईवे पर जमकर हंगामा किया। प्रदर्शनकारियों ने 5 घंटे तक हाईवे को जाम रखा। इसके बाद उन्होंने यूपी और हरियाणा रोडवेज की बसों में आग लगा दी। आगजनी की सूचना पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और उन्होंने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ना शुरू किया। लेकिन प्रदर्शनकारी बहुत ज्यादा उग्र हो गए और उन्होंने पथराव के साथ ही बसों में भी आग लगाना शुरू कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया।

डीएम-एसएसपी को भीड़ ने दौड़ाया, सीओ घायल

टप्पल में भीड़ के उग्र होने के बाद डीएम इंद्र विक्रम व एसएसपी कलानिधि नैथानी मौके पर पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारियों से बात करने की कोशिश की, लेकिन प्रदर्शनकारियों ने अधिकारियों की एक भी न सुनी। उन्होंने दोनों अधिकारियों को दौड़ा लिया और पथराव शुरू कर दिया।

अधिकारियों ने भागकर अपनी जान बचाई। इस पथराव में सीओ खैर राजेंद्र कुमार सिसौदिया समेत 4 पुलिसकर्मी घायल हो गए। जिसके बाद सभी का खैर सीएचसी में इलाज किया जा रहा है। वहीं पुलिस प्रदर्शनकारियों को शांत करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।

इगलास-गोंडा में बसों पर पथराव

टप्पल के साथ ही इगलास व गोंडा में भी प्रदर्शनकारियों ने उपद्रव किया भीड़ ने यहां पर भी बसों पर पथराव किया। लेकिन मौके पर पहुंचकर पुलिस ने तत्काल प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। उन्हें समझाया तब जाकर मामला शांत हुआ। हालांकि एहतियात के तौर पर अभी भी इलाके में भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है।

पुलिस चौकियों में लगाई आग

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकियों को भी निशाना बनाया। पथराव करते हुए भारी संख्या में प्रदर्शनकारी जट्टारी पुलिस चौकी पहुंच गए। उसके बाद चौकी फूंक दी। इसके बाद टप्पल पहुंचे। वहां पर भी चौकी में आगजनी कर दी। इस दौरान चौकियों के अंदर खड़े वाहनों को फूंक दिया।

मीडिया को भी दौडा़या, कैमरे तोड़े

प्रदर्शन कर रहे युवा इतने ज्यादा उग्र हो गए कि उन्होंने पुलिस व अधिकारियों के साथ मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया। उन्होंने कई मीडियाकर्मियों के कैमरे तोड़ दिए और उन पर पथराव कर दिया। मीडिया कर्मियों ने खेतों में भागकर अपनी जान बचाई।

हालत काबू करने के लिए दो कंपनियां अलीगढ़ से की गई रवाना

टप्पल में भारी संख्या में फोर्स तैनात की गई है। इसके साथ ही पीएसी और आरएएफ की ड्यूटी भी लगाई गई है। हालात काबू से बाहर होते देख डीआईजी ने अलीगढ़ से दो कंपनियां और रवाना की हैं, जिससे हालात पर जल्द से जल्द काबू पाया जा सके।

रेलवे स्टेशन पर हाई बढ़ाई गई सुरक्षा

प्रदेश में कई स्थानों पर रेलवे स्टेशन में हंगामा हुआ और ट्रेनों में भी आगजनी की गई। जिसके चलते अलीगढ़ में भी हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। आरपीएफ, जीआरपी के साथ सिविल पुलिस भी स्टेशन पर तैनात कर दी गई है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने