अलीगढ़। कालीन सत्र में माखन चोरी एवं गणेश पूजन लीला का हुआ भावपूर्ण मंचन

ब्यूरो डेस्क, अलीगढ़

29/09/2022 माखन चोरी एवं श्री गणेश पूजन लीला को सांय कालीन सत्र में माखन चोरी लीला का भावपूर्ण मंचन किया गया। नंदनंदन श्री कृष्ण गोपियों को प्रार्थना करने पर सभी के यहाँ दही दूध माखन की चोरी करते हैं। 

जबकि नंद बाबा के यहाँ 9 लाख गऊधन था। आज भी नंदगाँव में " छाछ कुन्ड है " फिर भी श्री कृष्ण जो उनके भक्त चाहते हैं, करते हैं। एक दिन सभी गोपियाँ यशोदा माँ के पास श्री कृष्ण बलराम की शिकायत करने जाती है । कृष्ण बलराम की बुद्धि सुधर जाय इसके लिये नंद यशोदा शांडिल्य ऋषि से • गणेज जी का अनुष्ठान कराते हैं । गणेश जी का कृष्ण बलराम से पूजन , आरती करायी गयी और गणेश जी का लड्डुओं का भोग लगाया गया।

जब सभी नेत्र बंद करके बैठ गये तो कृष्ण बलराम एवं सभी सखाओं ने गणेश जी के समक्ष रखे लड्डुओं को खाकर पुनः आँख बन्द करके बैठ गये जब नंद यशोदा ने देखा कि गणेश जी के समक्ष रखे लड्डू कहाँ गये तो श्री कृष्ण का कान पकड़कर जैसे जी मारने को हाथ उठाया गणेश जी प्रकट हो गये और कहा सभी लड्डू मैंने ही पाये हैं। मैं आपकी भक्ति से अति प्रसन्न हूँ। 

आप जो चाहें वर माँग लो। मैय्या प्रसन्न हो जाती है और श्री कृष्ण बलराम के विषय में गणेश जी से अनेक प्रश्न एवं उनका समाधान पूछती है । यह वात्सल्य रस एवं गोपी प्रेम की अद्भुत लीला श्रीमद भागवत एवं गणेश पुराण के आधार पर प्रस्तुत की गयी जिसका निर्देशन श्री कुँजबिहारी शर्मा जी वृन्दावन के द्वारा किया गया। 

इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष श्री आशुतोष वार्ष्णेय, संस्थापक /महामन्त्री श्री प्रेम प्रकाश माहेश्वरी, लीला संयोजक पवन शर्मा, राजेश सरकोड़ा, तेजेन्द्र गुप्ता, देवेन्द्र गांधी, ठा ० श्यौवीर सिंह, ख्यालीराम वार्ष्णेय, जुगल किशोर वार्ष्णेय, शिवशंकर वार्ष्णेय, गणेशी लाल, मुकेश तरकोड़ा अनुरात्र शर्मा, धर्मा, सुरेश गुप्ता, विनोद महेश्वरी, मधुऱ राठीउपस्थित रहें।

श्री राधाकृष्ण के स्वरूप का माल्यार्पण अनिकर अग्रवाल, अजय वार्ष्णेय, अनुपम वार्ष्णेय, सज्जु, ओमवीर गुप्ता , विजय वार्ष्णेय, विनोद महेश्वरी तरून अग्रवाल, सुधीर माहेश्वरी"ट्रांसपोर्ट, संजीब वार्ष्णेय, डा.राजीव वार्ष्णेय, गोविन्द लोधी , विजयदत्त अमीन,ओमप्रकाश, मनोज लकी स्टार डॉ.गोविंद महेश्वरी जी ने अतिथियों का कृष्ण जी की मूर्ति देकर स्वागत किया।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने