You have to wait 20 seconds.


अलीगढ़। इगलास : सरकारी स्‍कूल की छत गिरी, 13 बच्‍चे दबे, तीन की हालत गंभीर

ब्यूरो डेस्क, अलीगढ़

अलीगढ़ की तहसील इगलास क्षेत्र के कस्बा बेसवां स्थितकन्या प्राथमिक विद्यालय बेसवां नंबर 3 की छत भरभरा गिर गई। हादसे में कई बच्चे गंभीर रूप से घायल हुए हैं। सभी घायलों को उपचार के लिए भेजा गया है।

अलीगढ़ :- की तहसील इगलास क्षेत्र के कस्बा बेसवां स्थित कन्या प्राथमिक विद्यालय बेसवां नंबर तीन की छत भरभरा गिर गई। कस्बा बेसवां स्थित कन्या प्राथमिक विद्यालय नंबर तीन में शुक्रवार को शिक्षण कार्य चल रहा था। इस दौरान करीब 12:45 बजे एक कक्षा की छत भरभरा कर गिर गई। मलवे में कक्षा में पढ़ रहे 13 बच्चे दब गए। शिक्षकों व स्थानीय लोगों ने बच्चें को मलबे से निकाल कर उपचार के लिए भर्ती कराया है। तीन बच्चों की हालत गंभीर बनी हुई है। हादसे के समय कक्षा में कोई शिक्षक मौजूद नहीं था।
हादसे के समय कक्षा से बाहर थीं शिक्षिका
बेसवां के मुहल्ला होली गेट में कन्या प्राथमिक विद्यालय नंबर तीन बना हुआ है। शुक्रवार की दोपहर करीब 12:45 बजे विद्यालय में शिक्षण कार्य चल रहा था। इस दौरान कक्षा पांच की शिक्षका गीता कक्षा से बाहर किसी कार्य से गई थी। कक्षा में 13 बच्चे पढ़ाई कर रहे थे। इस दौरान कमरे की गाडर पत्थर से बनी छत अचानक भराभर कर गिर गई। कक्षा में पढ़ाई कर रहे सभी बच्चे मलबा में दब गए। तेज आवाज सुनकर शिक्षकों के साथ ही आस-पास मौजूद लोग भी मौके पर पहुंच गए। लोगों ने बच्चों को मलबे से निकाल कर उपचार के लिए भेजा है।
मलबे में दबेे थे ये बच्‍चे 
मलबे में दबने वाले बच्चों में लबली, अल्सफा, सोनिया, फिजा, सुमन, प्रियंका, खुशी, अमीर, गुलशन, मन्नू खां, शाहिल, गट्टू, शशांक थे। जिनमें से लवली, गट्टू, गुलशन, मन्नू व अल्सफा को गंभीर हालत में एंबूलेंस से इगलास के लक्ष्मण देवदत्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। अन्य बच्चों का कस्बा में ही अभिभावकों द्वारा निजी डाक्टरों से इलाज कराया जा रहा है।
हादसे के बाद मची अफरा-तफरी
कन्या प्राथमिक विद्यालय बेसवां नंबर तीन में हादसे के बाद अफरा-तफरी मच गई। आसपास के लोगों ने घायल बच्‍चों को नजदीकी अस्‍पताल पहुंचाया। इधर घटना की जानकारी पर अफसर निगाह बनाए हुए हैं। खास बात यह है कि शनिवार को सीएम योगी आदित्‍यनाथ अलीगढ़ आ रहे हैं। इसको लेकर अफसर चौकन्‍ना है। व्‍यवस्‍थाओं में जुटे हुए हैं। अफसरों को डर है कि यदि किसी ने सीएम योगी से शिकायत कर दी तो कार्रवाई हो सकती है। अलीगढ़ में सरकारी स्‍कूलों के भवनों का हाल पहले से ही बेहाल है। हालांकि भवनों की मरम्‍मत के लिए शासन से करोड़ों रुपये आतेे हैं। ये धनराशि कहां खर्च होती है। इसकी जानकारी किसी का नहीं है।  
35 वर्ष पुराना है भवन
विदित रहे कि उक्त विद्यालय का भवन 35 वर्ष पूर्व बना था। वर्तमान में यहां प्रधानाचार्य संजय सिंह, सहायक अध्यापक गीता खन्ना, श्वेता अग्रवाल, शिक्षामित्र दुर्गेश कुमारी की तैनाती है। विद्यालय में कुल 106 बच्चे पंजीकृत हैं जिनमें से शुक्रवार को 52 बच्चे उपस्थित थे। बताया जाता है कि विद्यालय का भवन जर्जर स्थित में था। इस संबंध में अधिकारियों को भी अवगत कराया गया था।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने