बुलंदशहर में मकान में ब्लास्ट, 6 की मौत:खेत में बने मकान में बना रहे थे केमिकल, शवों के उड़े चीथड़े; दूर-दूर तक गिरे टुकडे,महिला का केवल सिर मिला, धड़ की तलाश जारी

 

ललित चौधरी

बुलंदशहर में एक मकान में ब्लास्ट हो गया। हादसे में एक महिला समेत 6 लोगों की मौत हो गई है। हादसा शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे हुआ है। ​​​बताया जा रहा है कि मकान खेतों के बीच में बना था। इसमें केमिकल बनाया जा रहा था। धमाके की वजह सिलेंडर फटना बताया जा रहा है। भारी फोर्स के साथ मौके पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौजूद थीं। घटना नगर कोतवाली क्षेत्र के नया गांव में हुई है।

खेत मालिक सतीश को तलाश रही पुलिस

लेखपाल की जांच पड़ताल के बाद पता चला है कि यह खेत किसी सतीश नामक युवक के नाम है। यह घर भी उसी ने बनवा रखा था। उसने ये मकान इन लोगों को किराए पर देख रखा है। पुलिस अब यह पता लगाने का काम कर रही है कि जो काम यहां हो रहा था वह सतीश करवा रहा था या ये लोग अपना खुद का काम कर रहे थे।

महिला का केवल सिर मिला, धड़ की तलाश जारी

हादसे में मारे गए छह लोगों में 3 हिंदू लड़के अभिषेक (20), चंद्रपाल और विनोद हैं। उनके साथ मुस्लिम रईस जिसकी उम्र करीब 40 वर्ष है। रईस के साथ में एक 5 वर्ष का बच्चा आहद भी था। वहीं, एक महिला का सिर भी बरामद हुआ है। उसके धड़ को खोजा जा रहा है।

फॉरेंसिक टीम ने मौके से जुटाए सुबूत

स्थानीय पुलिस के साथ फॉरेंसिक टीम भी मैके पर पहुंच गई है। फॉरेंसिक टीम घटनास्थल से ड्रम के अंदर रखे हुए केमिलनुमा पदार्थ, सिलेंडर और आसपास बिखरी हुई वस्तुओं के तथ्य जुटाए हैं। अंदाजा लगाया जा रहा है कि या तो सिलेंडर में ब्लास्ट होने से धमका हुआ है। या केमिकल का कुछ काम करते हुए रिएक्शन हुआ। जिससे आग लगी और सिलेंडर में भी ब्लास्ट हो गया।

दूसरे खेतों में मिले शवों के टुकड़े

हादसे में मरने वालों के शव पूरी तरह से क्षत-विक्षत हो गए हैं। उनके शरीर के टुकड़े दूर तक जाकर गिरे हैं। आस-पास के लोगों का कहना है कि उनको दूर से धुआं उठता दिखा था। बहुत तेज से आवाज भी सुनाई दी थी। इसके बाद कोई गाड़ी से तो कोई दौड़कर मौके पर पहुंचा। धमाके की वजह से हमारे घर हिल गए। जो घर थोड़ा पास के थे, वहां के तो कांच की खिड़कियां टूट गईं हैं।

शवों के पार्ट को इकट्ठा कर रही पुलिस

स्थानीय लोगों का कहना है कि जब हम लोग मौके पर पहुंचे तो हर तरफ बस धुआं ही धुआं दिख रहा था। जो लोग मरे थे उनके शव के छोटे-छोटे टुकड़े दूर-दूर बिखरे हुए थे। बस एक ही शव वहां पर ऐसा था जो पूरा था। बाकी सबके तो शव पुलिस ने टुकड़ों में बरामद किए हैं। उन्हीं को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज गया है। साथ ही घर का सारा सामान भी बिखर हुआ था। सब कुछ टूट चुका था। शवों के पार्ट को पुलिस की टीम इकट्ठा कर रही है।

मौके पर मिले फटे हुए ड्रम

हादसे के बाद मौके पर पहुंचे डीएम चंद्र प्रकाश सिंह ने बताया कि अभी तक 5 लोगों के शव मिले हैं। घर के अंदर केमिकल बनाने का काम होता था। धमाके के बाद पूरा घर जमींदोज हो गया है। अभी हम लोग JCB से मलबा हटावा रहे हैं। मौके से फटे हुए ड्रम भी मिले हैं। ये घर आबादी से काफी दूर बना हुआ था।

हर पहलू की बारीकी से जांच की जा रही

घटना पर पहुंचे SSP श्लोक कुमार ने बताया कि घटनास्थल पर रेस्क्यू चलाया गया है। हर पहलू की बारीकी से जांच की जा रही है। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। अभी ये बात सामने आई है कि ये लोग यहां के रहने वाले नहीं थे। ये लोग किसके खेत पर घर बनाकर रह रहे थे, ये बात अभी साफ नहीं हो पाई है। लेखपाल को मौके पर बुलाकर जानकारी ली जा रही है।

खेत में चल रहा था केमिकल स्टोरेज हाउस

पुलिस जांच में अभी सामने आया है कि सतीश नामक युवक से ये खेत केमिकल डीलर राजकुमार ने किराए पर ले रखा था। यहीं पर वो केमिकल बनवाने का काम करता था। उसने किसी केमिकल कंपनी की ऑथराइजड डीलरशिप भी ले रखी थी। उसी कंपनी के नाम से वो केमिकल की यहां पैकिंग भी करवाता था। मौके से केमिकल के रैपर और बोतल भी बरामद हुए हैं।

ब्लास्ट की जांच के लिए एसआईटी का गठन

इस घटना के बाद डीलर राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने राजकुमार के भाई प्रमोद को भी गिरफ्तार किया है। मौके पर मिले 1 रैपर के जीएसटी नम्बर से फैक्ट्री के मालिक की पहचान हुई है। डीएम ने ब्लास्ट की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। सिटी मजिस्ट्रेट, एडीएम और सीएफओ के नेतृत्व में पूरी जांच होगी।



एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने