You have to wait 20 seconds.


अलीगढ़। बरला, परिजनों की डांट से बचने को दो चचेरी बहनों ने लगाई फांसी

 

ब्यूरो, अभिषेक चौधरी

लीगढ़। के थाना बरला क्षेत्र के गांव फजलपुर में की दोपहर एक ही परिवार की दो किशोरियों ने आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है, कि परिजनों ने दोनों नाबालिगों के हाथ में मोबाइल देख लिया था।

परिजनों की डांट से बचने के लिए दोनों ने यह कदम उठाया है. परिवार की ओर से गांव के एक युवक के खिलाफ थाने में तहरीर देकर परिवार की बिटिया को मोबाइल देने, आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है.

अतरौली तहसील के थाना बरला क्षेत्र के गांव फजलपुर में दो चचेरी बहनें 15 वर्षीय खुशबू पुत्री सीटू, 16 वर्षीय शालिनी पुत्री पुष्पेन्द्र पढ़ायी करती थीं। दोनों के माता-पिता बाहर नौकरी करते हैं। खुशबू अपने दादा-दादी के पास और शालिनी अपने चाचा-चाची के पास रहती थी। दोनों चचेरी बहनें एक साथ रहकर पढ़ायी करती थीं. बताया जा रहा है कि दोनों बहनों के पास परिवार के सदस्यों ने एक मोबाइल देख लिया था। पूछताछ करने पर दोनों बहनें घबरा गयीं और एक ही कमरे में बंद होकर एक साथ फांसी के फंदे पर झूलकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बंद कमरे के दरवाजे तोड़कर दोनों बहनों को फंदे से उतारा।

दोनों नाबालिगों के यह कदम उठाने के बाद उनके परिजनों को सूचना दी गई। बाहर नौकरी करने वाले दोनों बहनों के माता-पिता को सूचना मिलने पर वह अपने घर आ गये। परिवार में दोनों बहनों के इस आत्मघाती कदम से कोहराम मच गया है। दोनों मृतक बहनों के दादा ने बताया कि हमें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि ऐसा क्यों हुआ है. दोनों ने घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

अब इसके पीछे क्या कारण रहे इसकी जानकारी पुलिस फोन से ही कर पाएगी जो फोन उनके पास से मिला है। आज जब पानी लाने के लिए हमने इनको आवाज लगाई तोउन्होंने कोई आवाज नहीं दी थी. इसके बाद जब दरवाजा देखा तो दरवाजा भी अंदर से बंद था. जानकारी की गई तो पता चला दोनों ने आत्महत्या कर ली है।


एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने