You have to wait 20 seconds.


अलीगढ़ | छुप-छुपकर लड़के से बात करती थीं दो बहनें, परिवार ने छीना मोबाइल तो दे दी जान

SDLive News
अलीगढ़ में दो चचेरी बहनों ने सुसाइड कर लिया। दोनों लड़के से मोबाइल पर बात कर रही थीं। दादा ने देखा तो मोबाइल छीन लिया था। इससे नाराज होकर दोनों ने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर फंदे से शवों को उतारा और पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। घटना बरला थाना क्षेत्र के फजलपुर गांव की रविवार की है।


अब पढ़िए घटना की पूरी कहानी, दादा की जुबानी
मृतक बहनों का नाम खुशबू (16) और शालिनी (14) है। दोनों फजलपुर में अपने दादा के साथ रहती थीं। दादा ने पुलिस को बताया कि दोनों नातिन गांव में रहकर काफी खुश थीं। सारा दिन घर का काम करती थीं। दोनों के माता-पिता बाहर रहकर नौकरी करते हैं। एक दिन दोनों बहनों मोबाइल पर बात कर रही थीं। तभी मैं पहुंच गया।
अब पढ़िए घटना की पूरी कहानी, दादा की जुबानी
मृतक बहनों का नाम खुशबू (16) और शालिनी (14) है। दोनों फजलपुर में अपने दादा के साथ रहती थीं। दादा ने पुलिस को बताया कि दोनों नातिन गांव में रहकर काफी खुश थीं। सारा दिन घर का काम करती थीं। दोनों के माता-पिता बाहर रहकर नौकरी करते हैं। एक दिन दोनों बहनों मोबाइल पर बात कर रही थीं। तभी मैं पहुंच गया।

दादा ने बताया कि मैंने उनसे पूछा कि मोबाइल कहां से मिली? मगर, दोनों ने कुछ भी जवाब नहीं दिया। इसके बाद मैंने दोनों को डांटकर मोबाइल ले लिया। इससे दोनों बहनें मुझसे नाराज रहने लगीं। कई बार दोनों ने मुझसे मोबाइल वापस मांगा। लेकिन मैंने उन्हें देने से साफ इनकार कर दिया।
दादा ने बताया कि रविवार सुबह मैं खेत में काम करने गया था। दोपहर में घर वापस आया। मैंने खुशबू से पानी मांगा। काफी देर तक बुलाया। जब कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला, तो मैं उठकर दोनों के कमरे में गया। खिड़की से झांककर देखा तो दोनों फंदे से लटक रही थीं। इसके बाद मैंने बेटे और पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर दोनों को फंदे से उतारा। दादा ने आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों बहनों को लड़के ने ही आत्महत्या के लिए उकसाया है।

मामले में नाबालिग लड़कियों के घरवालों ने अज्ञात लड़के के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की तहरीर दी है। इसके बाद पुलिस तहरीर के आधार पर मामले की जांच में जुट गई है।
दोनों बहनें मोबाइल छीने जाने से नाराज थी- SP ग्रामीण
SP ग्रामीण पलाश बंसल ने बताया कि दोनों बहनें मोबाइल छीने जाने से नाराज थी। शुरुआती जांच में यही माना जा रहा है। परिवार के लोगों ने बताया कि वह किसी दोस्त से बात करती थी और उसी ने उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाया है। कॉल डिटेल्स और डिजिटल साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं। आगे की जांच की जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने