बुलंदशहर।कृषि विभाग ने निरीक्षण में उर्वरक की पांच दुकानों के लाइसेंस किये निरस्त

ब्यूरो ललित चौधरी

बुलंदशहर। जिले में शासन के आदेश पर उर्वरक विक्रेताओं की मनमानी पर नकेल कसने के लिए विभाग की ओर से निरीक्षण जारी है। मंगलवार को कृषि विभाग की चार टीमों ने 70 दुकानों का निरीक्षण किया। इस दौरान अनियमितताएं पाए जाने पर पांच दुकानों के लाइसेंस निरस्त कर दिए। दो दुकानदारों को चेतावनी दी और उर्वरक के 31 सैंपल भी लिए गए। सैंपल जांच के लिए लैब भेजे जा रहे हैं।

इस समय शासन का ध्यान किसानों पर है, ताकि उन्हें यूरिया की कमी न रहे। साथ ही उर्वरक आदि निर्धारित रेट पर मिल सके। इसके लिए आदेश है कि सहकारी समिति और उर्वरक की दुकान पर किसान का पॉश मशीन में अंगूठा भी जरूर लगाया जाए, ताकि यह पता रहे कि कहीं गड़बड़ी तो नहीं हो रही है। शासन ने यह भी आदेश दिया है कि लगातार उर्वरक की दुकानों का निरीक्षण करें और अनियमितता पाए जाने पर कार्रवाई की जाए। 

जिला कृषि अधिकारी राहुल तेवतिया ने मुताबिक मंगलवार को उर्वरक की दुकानों का निरीक्षण करने के लिए डीएम रविंद्र कुमार के निर्देश पर कृषि विभाग की चार टीमों का गठन किया गया। इनमें उप कृषि निदेशक, जिला कृषि अधिकारी, जिला कृषि रक्षा अधिकारी और जिला भूमि संरक्षण अधिकारी कार्यालय की टीम शामिल रहीं। इन टीमों ने कुल 70 दुकानों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अनियमितता पाए जाने पर पांच उर्वरक की दुकानों के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए हैं। दो दुकानदारों को चेतावनी के बाद कड़ी हिदायत देकर सुधार का एक और मौका दिया गया है। वहीं, शक होने पर उर्वरक के 39 सैंपल लिए गए हैं। इन सैंपल को जांच के लिए लैब भेजा जा रहा है। लैब से जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।

जिले में किसी भी कीमत पर उर्वरक विक्रेताओं की मनमानी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्हें शासन और विभाग के नियमानुसार और निर्धारित रेट पर ही उर्वरक बेचना होगा। यदि वह किसी तरह की मनमानी करते हैं तो संबंधित किसान इसकी शिकायत विभाग में दर्ज करवा सकते हैं। शिकायत दर्ज करवाने के लिए विभाग की ओर से हेल्पलाइन की शुरूआत कर दी है। जिसका नंबर 8439206609 है। - राहुल तेवतिया, जिला कृषि अधिकारी।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0