बुलंदशहर। दहेज के भुखो ने पिलाई जहरीली दवा, विवाहिता की हत्या का प्रयास

 

ब्यूरो ललित चौधरी

एक विवाहिता को रीढ की हड्डी की दवा के नाम पर जहरीली दवा खिलाकर जान से मारने का प्रयास किया गया। भाईयों को सूचना देने पर पीड़िता के साथ मारपीट कर उसे रजवाहे के पास फेंककर ससुरालीजन फरार हो गए। पीड़िता ने पति के एक अन्य महिला से अवैध संबंध होने का भी आरोप लगाया है। नगर पुलिस ने पति समेत अन्य ससुरालीजनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

नगर कोतवाली में पीड़िता ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया है कि जनवरी 2016 को उसकी शादी बुलंदशहर के एक मोहल्ला निवासी युवक के साथ हुई थी। शादी में मायके पक्ष ने करीब 12 लाख रुपये खर्च किए थे। इसके बावजूद ससुरालीजनों द्वारा अतिरिक्त दहेज में नोएडा में फ्लैट, स्कूटी, लैपटॉप, बाइक, सोने के कंगन आदि की मांग करते हुए उसे प्रताड़ित किया जाने लगा। विवाहिता ने एक पुत्र को जन्म दिया, जिसके बाद भी ससुरालीजनों का उत्पीड़न जारी रहा।

 

5 दिसंबर 2019 को विवाहिता को लाठी से पीटा गया, जिससे रीढ की हड्डी में चोट के चलते पैरालाइसिस का शिकार हो गई। मायके पक्ष के लोगों द्वारा उसका उपचार कराया गया। 12 मई 2021 को उसने पुलिस में शिकायती पत्र दिया, जिसमें समझौते के बाद पति उसे अपने साथ नोएडा ले गया। पीड़िता ने आरोप लगाया कि पति के साथ में काम करने वाली महिला से अवैध संबंध हैं।


3 अगस्त 2021 की शाम को पति ने अपने पिता, मां, बहन, देवर आदि को रीढ़ की हड्डी ठीक करने की दवाई लेकर आने के लिए नोएडा बुला लिया। दवा खाते ही उसकी हालत बिगड़ गई। पीड़िता ने अपने भाईयों को फोन पर सूचना दी, जिसके बाद ससुरालीजनों ने उसे गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया। उसके बेहोश होने पर गाड़ी में डालकर बुलंदशहर आरटीओ कार्यालय के पास रजवाहे के पास फेंककर फरार हो गए।

 

पीड़िता ने आरोप लगाया कि ससुरालीजनों द्वारा उसे जहरीली दवा खिलाकर हत्या करने का प्रयास किया गया था। नगर पुलिस ने पति समेत अन्य ससुरालीजनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0