अलीगढ़ | घर में अकेली एमएससी छात्रा ने की आत्महत्या, जानिए सुसाइड नोट में क्या लिखा है

डेस्क समाचार दर्पण लाइव

महानगर के क्वार्सी क्षेत्र के रामघाट रोड की रामबाग गली नंबर 6 में किराये के मकान में रह रही एमएससी छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना के समय युवती अकेली थी और उसने करीब 15 घंटे पहले यह कदम उठाया।

घटना की जानकारी बुधवार दोपहर हुई तो मकान स्वामी परिवार के पैरों तले जमीन खिसक गई। खबर पर आई पुलिस ने जांच पड़ताल कर फील्ड यूनिट की मदद से भी साक्ष्य संकलित किए हैं। कमरे में एक सुसाइड नोट भी मिला है। फिलहाल कुछ रिश्तेदार आ गए हैं। अभी माता-पिता के आने का इंतजार है। उनके आने के बाद ही शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

मूल रूप से हाथरस के हाथरस जंक्शन क्षेत्र के गांव सलेमपुर के प्रस्त कुमार सेंगर कोलकाता में निजी कंपनी में नौकरी करते हैं। उनकी पत्नी इकलौती बेटी साक्षी उर्फ डॉली (18) संग रामबाग गली नंबर 6 में एक रिश्तेदार के मकान के ऊपरी हिस्से में किराये पर रहती थीं। चूंकि अब तक डॉली की पढ़ाई अलीगढ़ में चली और अब उसने नोएडा के एक निजी विश्वविद्यालय में एमएससी में दाखिला ले लिया था।

इसलिए अगले 15 दिन में मां-बेटी नोएडा जाकर रहने की तैयारी में थे। अब तक ऑनलाइन कक्षाएं चलने के कारण दोनों यहीं रह रहे थे। नोएडा जाने से पहले किसी जरूरी काम से डॉली की मां पति के पास कोलकाता गई हैं। मंगलवार सुबह ही डॉली अपनी मां को ट्रेन में बैठाकर आई थी और 9:30 बजे घर आ गई थी।

इसके बाद वह कमरे से नहीं निकली। इस बीच शाम को उसकी मां ने डॉली को फोन भी मिलाया, मगर डॉली ने फोन रिसीव नहीं किया। इस पर मकान मालिक से दिखवाया तो डॉली को किसी से मोबाइल पर बतियाते सुना और देखा। तो मां व मकान स्वामी ने यही समझा कि पढ़ाई में व्यस्त होगी, इसलिए फोन रिसीव नहीं किया।

इसके बाद बुधवार सुबह से डॉली की कोई गतिविधि नहीं दिखी। मां ने भी फोन किया तो फोन रिसीव नहीं हुआ। इस पर सुबह दूध वाला भी दूध देकर चला गया। मगर डॉली अपना दूध लेने भी नीचे नहीं आई। मकान स्वामी के अनुसार उनके घर में रंगाई पुताई का काम चल रहा है।

दोपहर में मजदूर छत के हिस्से में गए तो उन्होंने बताया कि कमरे में किसी तरह की हलचल नहीं है। इस पर संदेह हुआ तो मकान स्वामी व उनके बेटे ने कमरे में झांककर देखा तो कमरे में बाथरूम साइड के जंगले से फंदे पर डॉली का शव लटका हुआ था और पैरों के नीचे एक स्टूल भी रखा था।

इस पर पुलिस बुला ली गई और कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर जाकर शव कब्जे में लिया गया। क्वार्सी पुलिस ने फील्ड यूनिट भी बुलाई। इसी दौरान साक्ष्य संकलन में कमरे में पढ़ाई की टेबिल पर डायरी के पन्ने पर एक हाथ से अंग्रेजी में लिखा सुसाइड नोट भी मिला।

मकान स्वामी रिश्तेदार ने हाथरस में परिवार के सदस्यों व कोलकाता में माता पिता को खबर दे दी है। वे वहां से रवाना हो लिए हैं। इंस्पेक्टर क्वार्सी विजय कुमार के अनुसार मौके पर मिले साक्ष्य से साफ है कि युवती ने आत्महत्या की है। वजह स्पष्ट नहीं है। परिवार के आने पर कुछ तथ्य और सामने आएंगे। एक सुसाइड नोट भी मिला है। उसे भी जांच का हिस्सा बनाया गया है।

ये लिखा है सुसाइड नोट में

मेरे लिए जितना हो सका संभाल लिया। यहीं तक थी मेरी जिंदगी भी। इतनी सी थी मेरी यहीं तक थी। मुझे सब मिला जीवन में एक चीज को छोड़कर शांति, मेरे जाने के बाद शांति बनाए रखना। भूल जाना लड़की भी थी तुम्हारी। अगर में गलत भी थी तो सुधार लो दोनों मिलकर। बस खुश रहना दोनों जो भी हो जैसे भी हो।

और नया पुराने

खबर पढ़ रहे लोग: 0