You have to wait 20 seconds.


बुलंदशहर। आपत्तिजनक टिप्पणि के सोशल मीडिया पर डालने से व्यक्ति को पहुंचा जेल, पैगंबर मोहम्मद से संबंधित थी आपत्तिजनक वीडियो

 

ब्यूरो डेस्क, बुलंदशहर

बुलंदशहर/स्याना। बुलंदशहर में पुलिस ने सोमवार को एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया, जिसने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ की गई कुछ टिप्पणियों से संबंधित विवाद से जुड़े एक आपत्तिजनक वीडियो को सोशल मीडिया पर कथित रूप से साझा किया था।

पुलिस ने सोशल मीडिया मंच पर ऐसी सामग्री, जिससे सांप्रदायिक विद्वेष पैदा हो सकता है, उसे पोस्ट करने या साझा करने के खिलाफ जनता को आगाह किया है।

पुलिस क्षेत्राधिकारी (स्याना) वंदना शर्मा ने बताया कि खानपुर कस्बे के रहने वाले नदीम अंसारी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर आपत्तिजनक वीडियो साझा किया था। मामले का संज्ञान तुरंत लिया गया और स्थानीय पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई जिसके बाद अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया।

अंसारी पर भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। शर्मा ने बुलंदशहर के निवासियों से आपत्तिजनक और धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले सोशल मीडिया पोस्ट करने से परहेज करने की भी अपील की।

अधिकारी ने कहा, ''पुलिस सोशल मीडिया पर नियमित रूप से निगरानी कर रही है और अगर कोई व्यक्ति धार्मिक भावनाओं को जानबूझकर ठेस पहुंचाने या सौहार्द बिगाड़ने वाले पोस्ट करते हुए पाया जाता है, तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।''


बुलंदशहर। किराए के मकान में मिला शव

बुलंदशहर/औरंगाबाद। औरंगाबाद के गोला कुआ में सोमवार को बंद मकान (rent) के अंदर फांसी से लटका युवक का शव मिला। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला। फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य एकत्रित किये।

युवक बेरोजगारी से तंग था। संभवतः इसी के चलते उसने यह कदम उठाया। राजकुमार पुत्र सुभाष 50 वर्ष पिछले करीब दो दशकों से औरंगाबाद में रहता था। वर्तमान में राजकुमार कर्बला के पीछे गोला कुआ स्थित बंद पड़े स्कूल के अंदर एक कमरे में किराए पर रहता था। सोमवार को कमरे के अंदर से दुर्गंध आने पर मोहल्ले के लोगों ने मकान मालिक को फोन कर मामले की जानकारी दी।

मकान मालिक ने पुलिस को सूचना देने की बात कही। मोहल्ले वासियों के अनुसार म्रतक कई माह से बेरोजगार था। जिस कारण म्रतक के सामने रोजी रोटी का संकट था। उसकी पत्नी का भी करीब 15 दिन पहले बुखार के चलते निधन हो चुका है। बच्चे बाहर नौकरी करते है। साथ ही उनका पिता के पास आना जाना नहीं था।

पुलिस ने म्रतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये जिला अस्पताल भेज दिया है। सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। जहां अंदर से दरवाजा बंद था। जिसके बाद पुलिस दरवाजा तोड़कर अंदर गई तो राजकुमार का शव फांसी से लटका हुआ था। ऐसे में प्रतीत होता है कि यह शव दो दिन पुराना है। सूचना पर वैश्य समाज के दर्जनों लोग मौके पर आ गए। फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल से फिंगर प्रिंट लिए।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने