बुलंदशहर। युवाओं की शंकाओं का कराया समाधान : अग्निपथ योजना के प्रति युवाओं को किया जागरूक

रिपो० रीशू कुमार

बुलंदशहर/छतारी। प्रशासनिक अधिकारी गांव-गांव जाकर युवाओं को अग्निपथ योजना के बारे में जागरूक करने में जुटे है बुधवार को शिकारपुर नायब तहसीलदार सुशील कुमार गुप्ता, पहासू अधिशासी अधिकारी अरविन्द कुमार मिश्रा, ने पहासू थाना प्रभारी महेन्द्र त्रिपाठी, ने युवाओं को जागरूक किया छतारी के गांव कनैनी और वेदरामपुर में जाकर गांव के युवाओं से रूबरू हो कर अग्निपथ योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। 

जहां पर युवाओं से वार्ता कर उनकी शंकाओं का समाधान किया जहां शिकारपुर नायब तहसीलदार सुशील कुमार गुप्ता, ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए अग्निपथ योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी ईओ अरविन्द कुमार मिश्रा, ने कहा युवाओं की समस्याओं के समाधान के लिए अधिकारी हमेशा तैयार है सरकार द्वारा युवाओं के लिए नई अग्निपथ योजना शुरू की है जिससे युवाओं को योजना का लाभ मिल सकेगा।


बुलंदशहर। आदेश के बाद भी खुले रहते है बाजार कागजों में सिमटी साप्ताहिक बंदी

बुलंदशहर/शिकारपुर। नगर में साप्ताहिक बंदी का दुकानदारों द्वारा जमकर मखौल उड़ाया जा रहा है साप्ताहिक बंदी को लेकर श्रम विभाग गम्भीर नजर नहीं आ रहा है नगर में साप्ताहिक बंदी का खुला उल्लंघन किया जा रहा है। 

बेखौफ व्यापारी साप्ताहिक बंदी पर भी लगातार दुकान खोल रहे हैं बुधवार को भी नगर के बाजार गुलजार रहे और दुकानदार बिना किसी डर के अपना कारोबार करते नजर आए बुधवार का दिन सप्ताहिक बंदी के लिए घोषित है इस दिन सप्ताहिक बंदी घोषित की गई है इसी दिन से अधिकारियों ने दुकान खोलने वाले दुकानदारों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए चालन काट डाले थे। इससे दुकानदारों में प्रशासन का खौफ पैदा हो गया था मगर कुछ महीने बीतने के बाद यह शक्ति नरम होती चली गई इसके चलते दुकानदारों के इसके मन में भी प्रशासन का खौफ पैदा हो गया था मगर कुछ महीने बीतने के बाद यह शक्ति नरम होती चली गई। 

इसके चलते दुकानदारों के मन में भी प्रशासन का खौफ खत्म हो गया अब साप्ताहिक बंदी के दिन नगर के बाजार गुलजार रहते है जब उच्च अधिकारियों का ज्यादा दबाव पड़ता है तो अधिकारी नींद से जागते है और बाजारों में घूम कर एकाध दुकानदार का चालान कर अपने काम की इतिश्री कर लेते है जब इस सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों से जानकारी करनी चाही तो सम्बन्धित अधिकारी कोई सन्तुष्ट जवाब नहीं दे पाए।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने