चार माह से अपह्रत निखिल शर्मा ने हरदुआगंज पुलिस को बयान देने से किया इनकार, लगाया आरोपियों से मिलीभगत का आरोप


ब्यूरो डेस्क, समाचार दर्पण लाइव
हरदुआगंज: थाना क्षेत्र के गांव बरौठा से 24 फरवरी की रात से लापता निखिल शर्मा ने हरदुआगंज की पुलिस पर आरोपियों के साथ मिले होने का आरोप लगाते हुए बयान देने से इनकार कर दिया है।

बता दे बरौठा निवासी निखिल शर्मा का 24 फरवरी को गांव के ही सुरेश(पुलिसकर्मी), अर्जुन,अमन, ओमवीर, प्रेमपाल, पुनीत, बंटी व अन्य लोगों के साथ रोड़ पर गलत तरीके से पशु बांधने को लेकर विरोध करने पर झगड़ा हो गया था जिसके बाद से ही निखिल शर्मा लापता थे।

मंजूरगढ़ी हाइवे के नजदीक अचेत अवस्था में पड़े मिले
30 जून की सुबह निखिल शर्मा मंजूरगढ़ी हाइवे के नजदीक हाथ बंधे हुए पड़े थे, राहगीरों ने हाथ की रस्सी खोलकर डायल 112 पर सूचना दी।

पुलिस पर लगाया आरोपियों से मिले होने का आरोप
बरौठा निवासी निखिल शर्मा ने बताया कि आज भी उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है बावजूद उसके उन्हें बिना अवगत कराए दीनदयाल अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया साथ ही पुलिस द्वारा ही जबरन डिस्चार्ज कराने की बात कही है।

कप्तान साहब को दूँगा बयान
निखिल शर्मा ने कहा जिस तरह हरदुआगंज पुलिस ने हमारे साथ अन्याय किया है उसे देखते हुए नहीं लगता कि वर्तमान में ये मेरी मदद करेंगे अभी स्वास्थ्य खराब है ठीक होने पर कप्तान साहब के सामने पेश होकर बयान दूंगा

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने