अलीगढ़। गभाना समेत चार नगर पंचायतों में ओबीसी से ज्यादा एससी के लिए आरक्षित हुए वार्ड

डेस्क, समाचार दर्पण लाइव

Aligarh civic elections : नगरीय निकाय चुनाव के लिए जिले की चार नगर पंचायतों में ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) से एससी (अनुसूचित जाति) के लिए अधिक वार्ड आरक्षित हुए हैं। इनमें गभाना, जवां, विजयगढ़ व मडराक शामिल हैं। यह सभी नवसृजित नगर पंचायत हैं। पहली बार सभासद का चुनाव इनमें होना है। इसके अलावा सात नगर पंचायतों में पिछड़ा वर्ग व एससी को बराबर-बराबर वार्ड आरक्षित किए हैं। इनमें भी तीन नवसृजित नगर पंचायत शामिल हैं। नगर निगम, दो नगर पालिका समेत अन्य आठ नगर निकायों में ओबीसी को एससी से अधिक वार्ड आरक्षित किए गए हैं। प्रशासन ने प्रस्तावित आरक्षण शासन में भेज दिया गया। अंतिम मुहर शासन से ही लगेगी। ऐसे में थोड़ा बहुत संशोधन से भी इन्कार नहीं किया जा सकता है।

19 निकायों में होने हैं चुनाव

2016 में जिले के 12 नगरीय निकायों में चुनाव हुए थे। लेकिन कुछ दिन बाद ही सात नगर पंचायतें और बढ़ गई हैं। अब जिले में 19 निकायों में चुनाव होने हैं। इनमें नगर निगम, दो नगर पालिका व 16 नगर पंचायत शामिल हैं। पिछले दिनों शासन स्तर से निकाय चुनाव के लिए वार्ड आरक्षण का आदेश जारी किया था। मंगलवार को डीएम इंद्र विक्रम सिंह की तरफ से जिले के 342 वार्ड के प्रस्तावित आरक्षण को शासन में भेज दिया गया। अब अंतिम मुहर शासन स्तर से लगेगी।

महिलाओं के आरक्षण में संशोधन

महिला आरक्षण को लेकर शासन से इस बार महत्वपूर्ण संशोधन हुआ है। पिछले चुनाव तक अगर कोई वार्ड किसी भी महिला के लिए आरक्षित हो गई है तो फिर उसे महिला वर्ग में नहीं रखा जाता था लेकिन इस बार शासन से इसमें संशोधन कर दिया है। अगर पिछले चुनाव में कोई वार्ड एससी महिला के आरक्षित था तो इस बार उसे ओबीसी व सामान्य महिला के लिए आरक्षित किया जा सकता है। इसके साथ ही एससी को निकाय की आबादी के हिसाब से आरक्षण दिया गया है।

इस तरह रही है स्थिति

प्रस्तावित आरक्षण में चार निकायों में एससी वर्ग को ओबीसी से अधिक वार्ड आरक्षित हुए हैं। इनमें मडराक में एससी को पांच व ओबीसी को चार वार्ड आरक्षित किए हैं। जवां में एससी को पांच व ओबीसी को तीन वार्ड आरक्षित हुए हैं। विजयगढ़ में एससी को तीन व ओबसी को दो वार्ड दिए गए हैं।गभाना में एससी को चार व ओबीसी को तीन वार्ड दिए गए हैं। पिसावा, चंडौस, जट्टारी, जलाली, हरदुआगंज व टप्पल में एससी-ओबीसी को बराकर वार्ड आरक्षित हुए हैं। नगर निगम, खैर व अतरौली नगर पालिका व अन्य बाकी के सभी नगर पंचायतों में ओबीसी को अधिक वार्ड आरक्षित हुए हैं।

इनका कहना है

जिले के सभी नगरीय निकायों का वार्ड आरक्षण शासन में भेज दिया गया है। अब अंतिम मुहर वहीं से लगेगी।

- इंद्र विक्रम सिंह, डीएम

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने