CRPF जवान ने दी आत्मदाह की चेतावनी, पुलिस महानिदेशक को लिखा पत्र, कहा- मेरा हो रहा मानसिक उत्पीड़न

ब्यूरो अभिषेक चौधरी
अमरोहा :- उत्पीड़न से दुखी होकर सीआरपीएफ के जवान ने पुलिस महानिदेशक को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है। साथ ही चेतावनी भी दी है कि अगर उन्हें न्याय नहीं मिला तो वह दिल्ली स्थित सीआरपीएफ मुख्यालय पर आत्मदाह करने के लिए मजबूर होंगे।

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में तैनात है सीआरपीएफ जवान

उत्तर प्रदेश में अमरोहा के मंडी धनोरा थाना क्षेत्र के गांव दौराला निवासी पवन वीर सिंह पश्चिम बंगाल में मिदनापुर स्थित सीआरपीएफ की 66वींं बटालियन में हवलदार के पद पर तैनात है। उनका आरोप है कि बीते वर्ष कुछ आला अधिकारियों के इशारे पर बटालियन के कुछ जवानों ने उन पर जानलेवा हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया था। सीआरपीएफ जवान ने पुलिस महानिदेशक को लिखा पत्र

सीआरपीएफ जवान ने लिखा है कि इसकी शिकायत उसने पुलिस महानिदेशक से की थी। उन्होंने मामले की जांच सीआरपीएफ के डीआईजी से कराई थी। पीड़ित ने पुलिस महानिदेशक को भेजे पत्र में आरोप लगाया है कि जानलेवा हमले की जांच से अधिकारियों को बचाने के लिए मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है।

सीआरपीएफ मुख्यालय पर आत्मदाह करने की दी चेतावनी

सीआरपीएफ जवान ने चेतावनी दी है कि यदि दोषियों पर कार्रवाई नहीं की गई तो वह दिल्ली स्थित सीआरपीएफ मुख्यालय पर आत्मदाह कर लेंगे। पीड़ित जवान ने बताया कि एक वर्ष पूर्व घटना के बाद उन्होंने अमरोहा के जिलाधिकारी के समक्ष पेश होकर इस प्रकरण में कार्रवाई के लिए गुहार भी लगाई थी। उस दौरान भी कुछ नहीं हुआ था।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने